Your SEO optimized title

शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए सदा याद किए जाएंगे उमाशंकर बाबू: एमएलसी

 

जलालपुर कॉलेज में 84वीं जयंती पर श्रद्धापूर्वक याद किए गए पूर्व सांसद उमाशंकर सिंह

 

 

छपरा/सिवान। ज़िले के दरौंदा प्रखंड के छपरा-सिवान नेशनल हाईवे 531 पर जलालपुर गांव स्थित उमाशंकर सिंह महाविद्यालय के परिसर में शुक्रवार को महाराजगंज के पूर्व सांसद व जन नेता उमाशंकर सिंह की 84वीं जयंती श्रद्धा पूर्वक मनाई गई।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि सारण स्नातक निर्वाचन क्षेत्र के विधान पार्षद डॉ वीरेंद्र नारायण यादव ने स्व. उमाशंकर सिंह के व्यक्तित्व व कृतित्व पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए उनके उनके बताए मार्ग व आदर्शों पर लोगों को चलने व अपनाने की अपील की। इस दौरान उन्होंने अपने कुछ संस्मरण भी प्रस्तुत किए। उन्होंने कहा कि वित्त रहित शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारियों की सभी समस्याओं का समाधान सहज तरीके से कराने हेतु प्रयास जारी है। जिससे जल्द ही शिक्षा के क्षेत्र में बेहतर परिणाम सामने नजर आएगा। उन्होंने कहा कि इंटर कॉलेजों में अनुदान राशि मिलने में होने वाली कठिनाईयों को भी सरकार के द्वारा सहज तरीके से सामाधान करने की दिशा में कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

 

समारोह को संबोधित करते एमएलसी डॉ यादव ने कहा कि उमाशंकर सिंह ने महाराजगंज क्षेत्र से ही अपनी राजनीतिक सफर शुरू की थी। पांच बार विधायक रहकर अनेक जनहित में महत्वपूर्ण कार्य किए। उन्होंने क्षेत्र में कई विद्यालय, महाविद्यालय, स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना कर एक कीर्तिमान स्थापित की। क्षेत्र के सभी लोगों से उनका संबंध परिवार जैसा था। वह सांसद रहते हुए भी क्षेत्र में महत्वपूर्ण कार्य किए।

 

वहीं प्राचार्य अभिनव प्रियदर्शी ने कहा कि उमाशंकर बाबू ने सांसद, विधायक रहते हुए क्षेत्र में शिक्षा की जो अलख जगाई है, उससे क्षेत्र के लोगों को काफी लाभ मिल रहा है। क्षेत्र के लोग शिक्षा ग्रहण कर विभिन्न क्षेत्रों में अपना नाम रोशन कर रहे हैं।
इस अवसर पर उमाशंकर सिंह के तैल चित्र पर अपना श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में एमएलसी डॉ वीरेंद्र नारायण यादव, प्राचार्य अभिनव प्रियदर्शी, अनुग्रह नारायण उमाशंकर महिला महाविद्यालय महाराजगंज के प्रभारी प्राचार्य प्रो मनोज वर्मा, प्रो अजीत कुमार सिंह, पूर्व मुखिया वीरेंद्र सिंह, जदयू नेता सुनील सिंह, जीतेंद्र सिंह, वरिष्ठ पत्रकार वीरेंद्र कुमार यादव, के के सिंह सेंगर, राजकिशोर सिंह, प्रो आरडी सिंह,राजेश कुमार सिंह, सुनील सिंह, प्रो धीरेन्द्र कुमार सिंह, प्रमित सिंह, प्रो धनलाल भारती, प्रो रणविजय सिंह, प्रो नीलू कुमारी, प्रशांत कुमार, प्रभात सिंह, सत्येंद्र भारती, प्रो कालिका नारायण सिंह, प्रो प्रो राजेश सिंह, राजेश गिरि, अभिषेक गौतम, जीतेंद्र कुंवर, शोभनाथ सिंह, जयमंगल सिंह, विजय गिरि, केशव सिंह आदि शामिल रहे।

Leave a Comment

error: Content is protected !!