Your SEO optimized title

बच्चों के छात्र कोष के 9 लाख रुपये डकार गए गुरुजी

  • छात्र कोष की राशि का जमकर हुआ दुरुपयोग, पूर्व प्राचार्य पर लगा आरोप

 

आरा/भोजपुर/संवाददाता अरुण कुमार ओझा। एक तरफ बिहार शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक स्कूलों में पठन पाठन को सुधारने के लिए लगातार बिहार के विभिन्न जिलों के स्कूलों का भ्रमण कर रहें हैं और शिक्षकों को कई आवश्यक दिशा निर्देश दे रहे हैं।

 

दूसरी ओर उनके ही कुछ शिक्षक उनके आदेशों का अवहेलना कर उन्हें पीठ पीछे स्कूल में आने वाले छात्र कोष में जमा पैसे की निकासी कर पैसे की घोटाला कर रहे हैं।

 

एक ऐसा ही मामला जिले के कोइलवर प्रखण्ड के कुल्हड़िया मानो बैजनाथ उच्च विद्यालय में देखने को मिला जहां छात्र कोष से सादा वाउचर पर बिल बनकर नौ लाख रुपये निकासी का मामला प्रकाश में आने से जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।

WhatsApp Image 2023 11 30 at 19.18.09 1

भोजपुर डीईओ ने कार्य में लापरवाही बरतने को लेकर बीते दिनों ही प्रभारी प्रधानाध्यापक शंभु प्रसाद गिरी को प्रभारी प्रधानाध्यापक को हटा दिया था।

 

जिसके बाद प्रभारी प्रधानाध्यापक बने मुरारी कुमार सिंह ने जैसे ही पदभार ग्रहण किया उन्हें इस घोटाले की जानकारी मिली।

जिसे लेकर तत्कालीन प्रभारी प्रधानाध्यापक मुरारी कुमार सिंह ने अपने कार्यकाल से पूर्व के प्रधानाध्यापक शंभु प्रसाद गिरी पर राशि का हेराफेरी करने का आरोप लगाते हुए अधिकारियों से जांच के लिए पत्राचार किया है।

 

तत्कालीन प्रधानाध्यापक द्वारा दिये गये आवेदन में कहा गया है कि फरवरी 2021 से 18 अगस्त 2023 तक एक वरीय नियोजित शिक्षिका के सहयोग से माध्यमिक और उच्च माध्यमिक में छात्र कोष का जमा नौ लाख चार हजार रुपये निकासी कर ली गयी है।

दोनों शिक्षको द्वारा छात्र कोष की राशि निकाल ली गयी लेकिन स्कूल का कोई विकास नहीं हुआ। पैसे निकालने के लिए सादा और गलत वाउचर का इस्तेमाल किया गया है।

 

साथ ही विद्यालय से चालीस सीलिंग पंखे गायब की बात कही है।मोबाइल बिल पर स्टेशनरी सामान के कई बिल, नाश्ता के बिल में बीस रुपये प्रति पीस लिट्टी का दर, दुर्गा और सरस्वती पूजा के लिए तीन हजार चंदा भी छात्र कोष से भुगतान किया गया है।

 

कुल छह अलग-अलग तिथि में नौ लाख चार हजार रुपया निकाला गया है। हालांकि इस मामला के प्रकाश में आते ही डीईओ कार्यालय द्वारा तत्कालीन प्रभारी प्रधानाध्यापक शंभु प्रसाद गिरी को राज्य स्तरीय जांच में अव्यवस्था पर खेद व्यक्त करते हुये कार्य में लापरवाही के आरोप में 18.8.23 को प्रभारी प्रधानाध्यापक पद से हटा दिया गया था।

 

जिसके उपरांत स्कूल के वरीय शिक्षक मुरारी कुमार सिंह को प्रभारी बनाया दिया गया। लेकिन इनका बीपीएससी शिक्षक बहाली में नया नियुक्ति पत्र मिलने पर 25 नवम्बर को शैलेन्द्र कुमार को प्रभारी प्रधानाध्यापक नियुक्त किया गया है।

क्या कहते हैं प्रभारी प्रधानाध्यापक

मानो बैजनाथ उच्च विद्यालय कुल्हड़िया के प्रभारी प्रधानाध्यापक शैलेन्द्र कुमार ने कहा कि बीते तीन दिन पहले ही उन्हें नया प्रभार मिला है। इस बारे में कोई जानकारी नही है। ना ही अनिमियता सम्बन्धी कोई पत्र मिला है।

वही जब इस संबंध में शंभु प्रसाद गिरी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि छात्र कोष की राशि का जो भी गबन का आरोप लगा है वो बेबुनियाद है।

पूर्व के प्रभारी एचएम जिस तरह के वाउचर लगाकर बिल बनाते थे, वैसे ही मैंने भी वाउचर लगाया है।कुछ लोकल शिक्षक द्वारा मुझे टारगेट कर फंसाया जा रहा है।

क्या कहते है जिला शिक्षा पदाधिकारी

जब हमारे संवाददाता ने दुरभाष पर भोजपुर जिला शिक्षा पदाधिकारी मो. अहसन से बात की तो उन्होंने बताया कि कुल्हड़िया उच्च विद्यालय में इस तरह का मामला संज्ञान में आया है जिले से अधिकारियों को भेज कर जांच करवाया जायेगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!