Your SEO optimized title

मंदिर के शिखर पर लगा ध्वनि विस्तारक यंत्र को तोड़ कर हटाने के विरोध में उपायुक्त से की शिकायत

 

देवघर। चंद्र शेखर खवाड़े भाजपा नगर अध्यक्ष देवघर ने जिलाधिकारी व दंडाधिकारी सह मंदिर प्रशासक बाबा बैद्यनाथ मंदिर देवघर को आज बाबा मंदिर के शिखर पर लगा ध्वनि विस्तारक यंत्र को तोड़ कर हटाने के विरोध में आवेदन दिया है। अपने आवेदन में उन्होंने जिक्र किया है कि झारखंड की सांस्कृतिक राजधानी देवघर के बाबा मंदिर के शिखर पर लगा ध्वनि विस्तारक यंत्र को तोड़ कर हटा दिया गया है बाबा मंदिर एक पौराणिक धरोहर है उसके शिखर पर हथोड़ा चला कर चारों ध्वनि विस्तारक यंत्र को तोड़ना/हटाना गलत है।

 

बाबा मंदिर के शिखर पर हथोड़ा चलाने से मंदिर को भी क्षति हुई होगी। ऐसे में मंदिर प्रबंधन के द्वारा कुकृत्य कर के बाबा मंदिर के शिखर पर लगा चारों ध्वनि विस्तारक यंत्र आज तक नहीं लगना हिन्दू भावना के साथ कहीं न कहीं खिलवाड़ करना जो की हिंदुओं का एक देश में प्रमुख स्थल है। पूरी दुनिया में बारह ज्योतिर्लिंग है उसमे से एक बाबा मंदिर भी है।

 

भारतीय जनता पार्टी के द्वारा आंदोलन करने के उपरांत प्रधानमंत्री कार्यालय भारत सरकार, राष्ट्रपति कार्यालय से जांच के उपरांत ध्वनि विस्तारक यंत्र पिछले कई वर्षों से बजता आ रहा था लेकिन जैसे ही झारखंड में हिन्दू विरोधी सरकार का पदार्पण हुआ उसके कुछ ही महीनों के उपरांत मंदिर के चाटुकार पदाधिकारी / कर्मचारी के द्वारा पहले ध्वनि विस्तारक यंत्र को खराब किया गया उसके बाद बाबा मंदिर के शिखर पर लगा हुआ ध्वनि विस्तारक यंत्र को हथोड़ा से मारकर तोड़कर हटा दिया गया लेकिन आज एक महिना से ऊपर हो जाने के बाद भी आज तक बाबा मंदिर के शिखर पर ध्वनि विस्तारक यंत्र का नहीं लगना सनातन विरोधी मंदिर के पदाधिकारियों की सोच को दर्शाता है।

 

इस बावत बाबा मंदिर के शिखर पर हथोड़ा चलाने वाले कर्मचारी को गिरफ्तार कर अविलम्ब जेल भेजा जाए और किसके आदेश से बाबा मंदिर के शिखर पर लगा हुआ ध्वनि विस्तारक यंत्र को हटाया गया समाचार पत्रों के माध्यम से आम जनमानस को बताया जाए। यदि 15 दिन के अंदर बाबा मंदिर के शिखर पर ध्वनि विस्तारक यंत्र नहीं लगाया गया तो भारतीय जनता पार्टी देवघर से लेकर रांची एवं दिल्ली तक उग्र आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी।

Leave a Comment

error: Content is protected !!