Your SEO optimized title

दुमका

रोजगार सेवक और बिचोलिया के मिलीभगत मनरेगा में हो रही है लूट

रोजगार सेवक और बिचोलिया के मिलीभगत मनरेगा में हो रही है लूट

 

Dumka : रानीश्वर प्रखंड अंतर्गत रंगालिया पंचायत में लगातार मनरेगा मे अनियमिता की खबर प्रकाशित हो रही है। महात्मा गांधी रोजगार गारंटी अधिनियम के तहत मनरेगा केंद्र सरकार की अधिनियम है। रंगालिया पंचायत में मनरेगा कार्य में रोजगार की गारंटी हो या ना हो भ्रष्टाचार की पूरी गारंटी देखने को मिल रही है।

 

रंगलिया गांव में ही कार्य हो रहा है लेकिन मजदूरी की भुगतान लकड़ा घाटी और कुकड़ी भाषा गांव के संपन्न व्यक्ति को द्वारा करवाया जा रहा है मिली जानकारी के अनुसार 1 रंगलिया गांव के ही कार्तिक मोहली के जमीन पर सिंचाई कुप निर्माण 2 सुखलाल मिर्धा का तालाब निर्माण रंगालिया 3 लखी हाँसदा का डोभा निर्माण रंगालिया 4 रंगालिया में सिंचाई नहर का निर्माण कार्तिक मोहली का खेत से कालिदास का खेत तक 5 रावण मोहली का सिंचाई कुप निर्माण रंगालिया

इस 5 योजना में सिर्फ लकड़ा घाटी और कुकड़ीभाषा गांव के ही जॉब कार्ड से निकासी किया गया है जब कि यह सब रंगालिया गांव कार्यस्थल पर कभी नही आय है। मनरेगा कर्मी और बिचौलिया की मिली भगत से संपन्न व्यक्ति के खाते मे मनरेगा मजदूरी का भुगतान किया जा रहा है।

 

योजना में सूचना पट्ट नहीं लगना आपको बताते चलें रंगलिया पंचायत में मनरेगा कार्य की जा रही है। जिसमें सूचना पट्ट नहीं होने के कारण ग्रामीण को पता नहीं चल पा रहा है की किसके नाम से कार्य की जा रही है। और कितने लागत का है।मामले को लेकर कनिय अभियंता रवींद्रनाथ टैगोर से संपर्क करने पर उसने कहा की रोजगार सेवक को बोल दिया गया है। सूचना पट्ट नहीं लगने से एएमआर को जीरो कर दिया जाएगाl

 

मामले को लेकर रोजगार सेवक इमाम रसीद से संपर्क करने पर उसने कहा ठेकेदार को बोल दिया गया है। जल्द से जल्द सूचना पाठ लगा दिया जाएगा और यह बात जनसुनवाई में भी हुई है कि 15 दिन के अंदर सूचना पठ लगा दिया जाएगा आपको बताते चलें मनरेगा कार्य में कोई ठेकेदार नहीं होता है लेकिन रोजगार सेवक का कहना है कि ठेकेदार से करवा दिया जाएगा तो आप समझ सकते हैं रोजगार सेवक और बिचोलिया में कितनी गहरी संबंध है। रोजगार सेवक और बिचोलिया मिलकर जो काम नहीं करते हैं। उसे व्यक्ति का नाम से निकासी किया जा रहा है। मनरेगा में सम्पन्न व्यक्ति के नाम पर जॉब कार्ड बनाकर फर्जी निकाशी किया जा रहा है। अगर निष्पक्ष जांच होती तो सच का खुलासा होगा ।

हेमन्त सोरेन ने 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों को किया सम्मानित

हेमन्त सोरेन ने 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों को किया सम्मानित

  •  मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने 75वें गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों को किया सम्मानित।
  • मुख्यमंत्री ने झारखण्ड आंदोलनकारी के आश्रित को प्रदान किया नियुक्ति पत्र।
  • गणतंत्र दिवस परेड में एसएसबी-35 वाहिनी और झांकियों में पर्यटन विभाग की झांकी को पहला पुरस्कार।

 

Dumka: मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने 75वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर पुलिस लाइन, दुमका में आयोजित समारोह में जिले के स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों को सम्मानित किया। इस मौके पर उन्होंने गणतंत्र दिवस परेड में हिस्सा लेने वाली एसएसबी -35 वाहिनी और झांकियों में पर्यटन विभाग की झांकी को प्रथम पुरस्कार से नवाजा। इसके अलावा झारखण्ड आंदोलनकारियों के आश्रित को नियुक्ति पत्र भी प्रदान किया।

WhatsApp Image 2024 01 26 at 15.43.42 1

स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रित पत्नी को किया गया सम्मानित

  • स्वतंत्रता सेनानी स्व धनेश्वर मंडल की आश्रित पत्नी श्रीमती चन्द्रावती देवी (ग्राम- बंदरी, प्रखण्ड- सरैयाहाट, जिला- दुमका)
  • स्व० पतरू राय की आश्रित पत्नी श्रीमती परवतिया देवी (ग्राम- परसदाहा, प्रखण्ड- सरैयाहाट, जिला- दुमका)
  • स्व० दशरथ राय की आश्रित पत्नी श्रीमती सरोतिया देवी (ग्राम- डेलीपाथर, प्रखण्ड- रामगढ़, जिला- दुमका)

 

पुरस्कृत होने वाली परेड टुकड़ी

  • प्रथम पुरस्कार- एसएसबी-35 वाहिनी
  • द्वितीय पुरस्कार-एसआईआरबी – 01 दुमका
  • तृतीय पुरस्कार – एनसीसी बटालियन एवं भारत स्काउट एंड गाइड (महिला ), दुमका

इन विभागों की झांकियों को मिला पुरस्कार

  • प्रथम पुरस्कार- पर्यटन विभाग, दुमका
  • द्वितीय पुस्कार- जिला ग्रामीण विकास अभिकरण, दुमका
  • तृतीय पुरस्कार- वन विभाग, दुमका

WhatsApp Image 2024 01 26 at 15.43.42

झारखण्ड आंदोलनकारी के आश्रित को मिला नियुक्ति पत्र

  • श्री क्लेमेंट मुर्मू, (निम्नवर्गीय लिपिक, साहेबगंज)
  • श्री विजय कु. मुर्मू (निम्नवर्गीय लिपिक, साहेबगंज)
  • श्री राजेश हेमब्रम (अनुसेवक, साहेबगंज)
  • श्री मारंग मुर्मू (अनुसेवक, साहेबगंज)

झारखंड आंदोलनकारी के आश्रित को शॉल एवं पेंशन प्रमाण पत्र प्रदान किया

  • श्री महादेव टुडू (अंचल -मसलिया )
  • श्री नागेंद्र हेमब्रम (अंचल -जरमुण्डी)

योजना एवं विकास विभाग अंतर्गत जिला योजना कार्यालय, दुमका के तहत इन्हें मिला नियुक्ति पत्र

  • श्री राजू कुमार
  • श्री गीतिल तिरिया
उल्लासपूर्ण वातावरण में दो दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता संपन्न

उल्लासपूर्ण वातावरण में दो दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता संपन्न

 

दुमका/शिकारीपाड़ा : 20/9/23 को शिकारीपाड़ा के शिवतल्ला पंचायत के द्वारपहाड़ी ग्राम में तिलका मांझी युवा क्लब के द्वारा हर वर्ष की भांति दो दिवसीय फुटबॉल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। लगातार मूसलाधार बारिश होने के बाद भी उपस्थित सभी अतिथियों का पारंपरिक तरीके से स्वागत किया गया। प्रतियोगिता में 16 टीमों ने भाग लिया। फाइनल मैच में एफ सी चांगड़े मातकम मजडिहा टीम ने जूनियर स्टार सागबेहड़ी टीम को संघर्ष पूर्ण मैच में 2-0 से हराया।

 

विजेता एफ सी चांगड़े मातकम मजडिहा टीम को जिला परिषद सदस्य (पश्चिम क्षेत्र शिकारीपाड़ा) प्रकाश हाँसदा के द्वारा प्रथम पुरस्कार स्वरूप नगद ₹12000, उपविजेता जूनियर स्टार सागबेहड़ी टीम को झामुमो कार्यकर्ता रजनीश कुमार के द्वारा द्वितीय पुरस्कार नगद ₹9000, क्रमशः तीसरे स्थान पर रहे नेताजी बेसरा बयार मोहलपहाड़ी टीम को स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता हाबिल मुर्मू के द्वारा नगद 3300 रुपए तथा चौथे स्थान पर रहे नीम बुटो बी.बी.दुमका टीम को स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता सुभान किस्कु के द्वारा 3300 रुपए नगद पुरस्कार दिया गया।

WhatsApp Image 2023 09 21 at 16.36.12

लगातार बारिश होने के बावजूद दर्शकों और खिलाड़ियों के उत्साह में कोई कमी नहीं देखा गया। सभी ने खेल का भरपूर आनंद लिया। इस अवसर पर झामुमो वरिष्ठ कार्यकर्ता होपना किस्कु,जोसेफ बेसरा,पतरस बेसरा,पियूष टुडू,स्थानीय शिक्षक मलिक अख्तर,क्लब अध्यक्ष अल्फ्रेड किस्कु,सचिव बोनीफस मुर्मू,कोषाध्यक्ष पोलुस टुडू, उपाध्यक्ष करनेलिउस टुडू, क्लब संरक्षक चुन्नू मरांडी के साथ अनेक कार्यकर्ता और हजारों दर्शक उपस्थित थे।

उन्नति नारी प्रोडूसर कंपनी लिमिटेड, की और से इंदरबनी में वार्षिक सभा का आयोजन किया

उन्नति नारी प्रोडूसर कंपनी लिमिटेड, की और से इंदरबनी में वार्षिक सभा का आयोजन किया

 

शिकारीपाड़ा/दुमका : गुरूवार दिनांक 21/09/2023 को उन्नति नारी प्रोडूसर कंपनी लिमिटेड, का वार्षिक आम सभा का आयोजन शिकारीपाड़ा के इंदरबनी में किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शिकारीपारा प्रखण्ड के। बीपीआरओ संजीव कुमार, पंचायती राज के प्रखण्ड समन्यवक , मुरायम पंचायत के मुखिया, पंचायत सचिव और भारतीय स्टेट बैंक पताबाड़ी के शाखा प्रबन्धक मौजुद थे । कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

 

इस दौरान उन्नति नारी प्रोडूसर कंपनी लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी स्वीटी कुमारी ने सभी दीदी और मोजूद लोगों को संबोधित करते हुई कहीं की यह एक महिला किसान उदपादक समूह है इस कम्पनी को केवल 10 महिला किसान दीदियों ने मिलकर शुरू किया था. उन्नति नारी प्रोडूसर कंपनी की शुरुआत 15 नवंबर 2021 से हुई. आज के समय में कंपनी में कुल 1150 शेयर धारक जुड़े हुए है और कुल 75 गांव के साथ जुड़े है. एफपीओ ने दीदियों को आत्मनिर्भर बनने में बहुत बड़ा योगदान दिया साथ ही साथ ज़ैव संसाधन केन्द्र के माध्यम से दीदियों को जैविक खेती की ओर प्रोत्साहित किया. अभी के समय में कुल 1000 दीदियां अपने खेत में जैविक तरीके से खेती कर रही है. ज़ैव संसाधन केन्द्र में अग्निअस्त्रा, प्राणशक्ति सुपर कम्पोस्ट (मरंग खाद), मल्टी विटामिन, मठ्ठअश्त्र उप्लब्ध है.

 

कार्यक्रम का उदेश्य किसान उद्पादक कंपनी को लेकर जागरूक करने के साथ साथ एफपीओ में मिल रही सुविधा और प्रोडक्ट को लेकर जानकारी देना है साथ ही कार्यक्रम में दीदियों ने शपत लिया की एफपीओ से मिल रहे प्रोडक्ट को इस्तेमाल करेंगे और ज्यादा से ज्यादा महिला मण्डल के दीदियों तक पहुचायेंगे. यह कम्पनी प्रदान के सहयोग से चलाया जा रहा है, इस कार्यक्रम का आयोजन प्रदान संस्था के द्वारा किया गया, मौके पर प्रदान के कर्मी मोजूद थे , साथ ही उन्नति नारी प्रोड्यूसर कम्पनी के 500 दीदियों ने भाग लेकर इसकी शोभा बढ़ाई।

एसएसबी के द्वारा सरसाजोल गांव के महिलाओं के लिए 12 दिवसीय निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का किया गया शुभारंभ

एसएसबी के द्वारा सरसाजोल गांव के महिलाओं के लिए 12 दिवसीय निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का किया गया शुभारंभ

 

दुमका/शिकारीपाड़ा : 24.08.2023 को रमेश कुमार,कमान अधिकारी 35वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल, दुमका के के द्वारा सरसाजोल गांव के महिलाओं के लिए 12 दिवसीय निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। यह प्रशिक्षण उच्च विद्यालय, सारसाजोल, प्रागण में वाहिनी के दर्जी कार्मिक (प्रशिक्षक) संदीप कुमार यादव के द्वारा चलाया जाएगा जहां सरसाजोल की महिलाएं सुविधाजनक तरीके से अपने प्रशिक्षण को संपन्न कर सके ।

मौके पर उपस्थित समस्त महिला प्रशिक्षुओं को संबोधित करते हुए कमान अधिकारी ने कहा कि सेवा, सुरक्षा व बंधुत्व के मूल ध्येय वाक्य के साथ सशस्त्र सीमा बल आप सभी के सेवा और सुरक्षा के लिए सदैव तत्पर है। इस प्रशिक्षण को शुरू करने का मूल उद्देश्य है कि आप सभी आत्मनिर्भर बने और सम्मानपूर्वक जीवन व्यतीत करें। यहां उपस्थित समस्त प्रशिक्षुओं को कार्यक्रम के शुभारंभ पर हार्दिक शुभकामनाएं एवं बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि आप सभी नियमित रूप से प्रशिक्षण को पूर्ण करेंगे एवं SSB द्वारा आयोजन किया जा रहे इस कौशल विकास प्रशिक्षण को सफल बनाएंगे ।
उन्होंने कहा कि आप सभी सशस्त्र सीमा बल द्वारा चलाए जा रहे नागरिक कल्याण कार्यक्रम के तहत विभिन्न कौशल विकास प्रशिक्षण, निशुल्क मानव चिकित्सा शिविर एवं निशुल्क पशु चिकित्सा शिविर व समय-समय पर एसएसबी द्वारा लगाए जा रहे फ्री मेडिकल चेकअप ओपीडी में शामिल हों और इसका लाभ उठाएं। इस कार्यक्रम के माध्यम से कुल 25 महिला प्रशिक्षुओं को सिलाई प्रशिक्षण दिया जाएगा।

कार्यक्रम में उपस्थित श्री परमेश्वर मुर्मू, मुखिया एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों द्वारा एसएसबी द्वारा संचालित इस कार्यक्रम की काफी सराहना की गई।
कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (CAPF) में भर्ती होने हेतु प्रेरित किया गया।
इस अवसर पर परमेश्वर मुर्मू मुखिया, मिहिर कुमार मंडल, प्रधान सारसाजोल, आसिम कुमार मंडल प्रधान अध्यापक उच्च विद्यालय सारसाजोल, मुकेश कुमार शिक्षक, तुसार कांत मंडल शिक्षक एवम एफ समवाय शिकारीपाड़ा के समवाय प्रभारी निरीक्षक कुलदीप सिंह,महिला प्रशिक्षु, स्थानीय ग्रामीण, SSB के कार्मिक उपस्थित रहे।

अभाविप के प्रतिनिधिमंडल ने विश्वविद्यालय के कुलपति को सौंपा ज्ञापन

अभाविप के प्रतिनिधिमंडल ने विश्वविद्यालय के कुलपति को सौंपा ज्ञापन

 

महाविद्यालयों में स्नातक में नामांकन सीटों में वृद्धि एवं चांसलर पोर्टल को पुनः खोलें जाने की मांग

ललित कुमार पाल की रिपोर्ट।

Dumka : अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं का शिष्टमंडल सिदो कान्हु मुर्मू विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति डॉ विमल प्रसाद सिंह से मिलकर 5 सूत्री मांगों एवं शैक्षणिक समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा ।
प्रदेश जनजातीय कार्य प्रमुख मनोज सोरेन ने बताया की महाविद्यालयों में हिंदी एवं इतिहास विषय में नामांकन हेतु हजारों विद्यार्थियों द्वारा आवेदन दिया है किंतु सीटों की सीमित संख्या होने के कारण केवल 300 विद्यार्थियों का नामांकन हो पाया है। साथ ही कई विद्यार्थी ऐसे भी हैं जो ग्रामीण क्षेत्र से आते हैं एवं सूचना के अभाव में ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पाए हैं जिससे नामांकन से वंचित रह गए हैं। इसके समाधान की दिशा में चांसलर पोर्टल खोल जाना अत्यंत आवश्यक है। कुलपति से मुलाकात कर सीटों की संख्या में वृद्धि करने की मांग की गई एवं यथाशीघ्र चांसलर पोर्टल खोले जाने की मांग की गई ‌।

 

वही विश्वविद्यालय संयोजक बम भोला उपाध्याय ने बताया कि स्नातक , स्नातकोत्तर एवं b.ed के सत्र विलंब की समस्या पर भी अभाविप के द्वारा कुलपति का ध्यान आकृष्ट कराया गया साथ ही विश्वविद्यालय एवं महाविद्यालय में ऐसे कर्मचारी व प्राध्यापक जिन पर पूर्व से भ्रष्टाचार एवं अनिमियता का आरोप है को जांच पूरी होने तक महाविद्यालय एवं विश्वविद्यालय के प्रमुख प्रभारी एवं दायित्व से मुक्त रखा जाए।

 

कुलपति ने इस विषय पर अपनी ओर से सकारात्मक पहल का भरोसा दिया है साथ ही चांसलर पोर्टल खोले जाने के संबंध में उन्होंने बताया कि यह विषय उनके संज्ञान में आया है तथा इस विषय पर विश्वविद्यालय प्रशासन विचार कर इसे खोले जाने हेतु आवश्यक कार्रवाई कर रहा है। अगर अभाविप की उपर्युक्त मांगे पूरी नहीं हुई तो छात्र हितो में अभाविप उग्र आंदोलन करेगी।

अभाविप के प्रतिनिधिमंडल में विश्वविद्यालय संयोजक बम भोला उपाध्याय, प्रदेश जनजातीय कार्य प्रमुख मनोज सोरेन, जिला संगठन मंत्री ,धनंजय साहा एवं नगर कार्यकारिणी के सदस्य जयराम यादव उपस्थित रहे।

अनैतिक तरीके से लाखों की एक्सपायरी दवाइयां को जलाकर किया गया नष्ट

अनैतिक तरीके से लाखों की एक्सपायरी दवाइयां को जलाकर किया गया नष्ट

 

दवाइयां क्यों जलाई गई इसकी जांच कराई जाएगी तथा दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी : सिविल सर्जन

  • अनैतिक तरीके से लाखों की एक्सपायरी दवाइयां को जलाकर किया गया नष्ट।
  • शिकारीपाड़ा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का है मामला।

 

Dumka : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिकारीपाड़ा से गुरुवार को अनैतिक तरीके से बड़ी मात्रा में एक्सपायरी दवा को जलाने का मामला सामने आया है| बताते चलें कि दिन के करीब 1:10 बजे सीएचसी शिकारीपाड़ा से अचानक बम फूटने जैसी आवाज आने लगी,जब परिसर पहुंचकर देखा गया तो वहां दवाइयां जल रही थी और उसी से विस्फोटक जैसी आवाजें निकल रही थी| यह घटना सीएचसी परिसर के अंदर हो रही थी बाहर नहीं । स्वास्थ्य कर्मी भंडार से दवाइयां लादकर आग में आहुति देने के लिए ले जा रहे थे, इस दौरान कितनी दवाइयां जलायी गई इसकी सटीक जानकारी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी भी नहीं दे पा रहे हैं। अनुमान लगाया जाता है कि 10 लाख से ऊपर की दवाइयां जलाई गई है। इसमें दवाइयों के साथ-साथ परिवार कल्याण के लिए उपयोग में लाने वाली सामग्रियां भी शामिल है।भंडार पाल के अनुसार यह सारी दवाइयां काफी पूर्व एक्सपायर कर गई है जिन्हें नष्ट कर देना था।

 

इस सम्बंध में क्या कहते हैं पदाधिकारी

इस संबंध में काफी देर से पहुंचे प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर देवानंद मिश्रा कहते हैं कि मैं जिला में हो रही बैठक में था, वही मुझे जानकारी मिली और इसे देखने के लिए यहां पहुंच गया| उन्होंने बताया कि यह सारी दवाइयां 10 वर्ष पूर्व एक्सपायर कर गई हैं जिन्हें भंडार में रखा गया था| मैंने इसकी जानकारी सिविल सर्जन दुमका को दे दी थी,उनके मौखिक आदेश पर सीएससी में पदस्थापित चिकित्सक एवं कर्मियों की एक टीम गठित कर इसे नष्ट करने का निर्णय लिया गया था। सारी दवाईयों को गढ्ढा खोदकर उसमें गाड़ना था जिसका आदेश मैंने अपने अधीनस्थ कर्मियों को दिया था| किसी भी स्थिति में आग लगाकर दवाइयों को जलाना नहीं था। आग असामाजिक तत्वों द्वारा लगा दी गई है ऐसा प्रतीत होता है। मामले में असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर बच्चा प्रसाद सिंह से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि किसी भी परिस्थिति में दवाइयों को जलाना नहीं था जलाया गया है तो यह अपराध है। मुझे प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी शिकारीपाड़ा द्वारा जानकारी दी गई थी कि कुछ दवाइयां एक्सपायर हो गई है |

 

मैंने कहा था कि जिला स्तर से एक टीम गठित कर दी जाएगी और उसके आदेश के बाद एक्सपायर दवाइयों को मिट्टी में गड़वा दिया जाएगा। दवाइयां जलाई क्यों जा रही थी इसकी जांच कराई जाएगी तथा दोषी के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉक्टर देवानंद मिश्रा के बयान पर गौर करें तो बहुत चौंकाने वाला तथ्य उजागर होता है। उनकी माने तो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिकारीपाड़ा की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन द्वारा चार गृह रक्षकों (होमगार्ड) की तैनाती की गई है। 4 होमगार्डों की मौजूदगी में दिन के 1:00 बजे असामाजिक तत्वों द्वारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में दवाइयों में आग लगाया जाना एक बहुत बड़ा प्रश्न खड़ा करता है जबकि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शिकारीपाड़ा की थाना से दूरी महज 500 मीटर की है।अगर असामाजिक तत्वों द्वारा आग लगायी गयी तो केंद्र की सुरक्षा पर बहुत बड़ा प्रश्न खड़ा हो रहा है। अगर दवाइयां आज से 10 वर्ष पूर्व एक्सपायर हो गई थी तो भंडार में क्यों रखी गई थी किसके कस्टडी में रखी गई थी इसकी जांच हो तो बहुत बड़ा घोटाला उजागर हो सकता है।

 

 

बिजली की बदहाली के लिए ग्रामीणों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

बिजली की बदहाली के लिए ग्रामीणों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

 

 

  • पिछले कुछ समय से शिकारीपाड़ा में बिजली सिर्फ दर्शन मात्र के रहते हैं।

 

शिकारीपाड़ा/दुमका/ललित कुमार पाल: शिकारीपाड़ा हैप्पी क्लब के अध्यक्ष विकाश कुमार भगत के नेतृत्व में ग्रामीणों ने प्रखंड विकास पदाधिकारी शिकारीपाड़ा को आवेदन सुपुर्द किया ।आवेदन में बताया गया बिजली विभाग से कई बार शिकायत करने के बावजूद क्षेत्र की बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं हो रहा। दिन -रात घंटों बिजली कटौती की जा रही। इलेक्ट्रानिक दुकानदारों, कामर्शियल उपभोक्ताओं के धंधे पर विपरीत असर पड़ रहा हैं सुबह बिजली आपूर्ति न होने से पेयजल आपूर्ति प्रभावित हो रही है उमस भरी गर्मी में लोग हाल परेशान हो जा रहे हैं। ट्रिपिंग व लोकल फाल्ट रिपेयर करने में काफी समय ले रहा है वर्तमान में छात्र-छात्राओं स्नातक परीक्षाएं चल रहे हैं बिजली कटौती से उनकी पढ़ाई लिखाई भी प्रभावित हो रही है साथ ही शिकारीपाड़ा क्षेत्र में कई ऐसे गांव हैं जहां 6-6 महीने से बिजली बिल भी उपलब्ध नहीं कराया गया है अचानक बिजली बिल ज्यादा आने पर परिवार पर आर्थिक संकट बढ़ता है शिकारीपाड़ा प्रखंड के कालीपत्थर ग्राम में पिछले सात-आठ सालों से पावर ग्रिड का निर्माण चल रहा है जो अब तक पूरा नहीं हुआ है।

 

पावर ग्रिड का निर्माण जल्द से जल्द होना चाहिए ताकि हमारे क्षेत्र के जनता को इसका लाभ मिल सके हमारी मांग हैं कि बिजली आपूर्ति नियमित रूप से की जाए कम से कम 18 से 20 घंटे बिजली आपूर्ति होनी चाहिए ग्रामीणों को समय पर बिजली बिल उपलब्ध कराया जाए एवं पावर ग्रिड का निर्माण जल्द पूर्ण ताकि हमें क्षेत्र की जनता को इसका लाभ मिल सके। अगर एक हफ्ता के अंदर बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं हुआ तो सडक़ पर उतरकर आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे ।आवेदन सुपुर्द में प्रशांत भगत, अंजन दियासी,किशोर भगत, संयूब अंसारी,कालीचरण साहा,वरुण चंद्र, सुनील भगत, प्रकाश पंडित, रंजन भगत इत्यादि ग्रामीण मौजूद ।

बासुकीनाथ पूजा करने आये कांवरिया की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या, अफरातफरी का माहौल

बासुकीनाथ पूजा करने आये कांवरिया की ताबड़तोड़ गोली मारकर हत्या, अफरातफरी का माहौल

 

दुमका : जिले के बासुकीनाथ धाम स्थित नंदी चौक पर अज्ञात अपराधियों ने एक कांवरिया को गोली मार दी. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. कांवरिया की उम्र 40 साल थी, उसका नाम अमर सिंह है और वह जमशेदपुर के मानगो के रहने वाले थे। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।मृतक के परिजनों ने बताया कि वे लोग बोलबम की यात्रा पर आए थे. बाबाधाम और बासुकीनाथ में पूजा कर वापस अपने घर जमशेदपुर के मानगो स्थित कृष्णा नगर जा रहे थे. चाय पीने के लिए वे लोग नंदी चौक पर रुके. इसी बीच वहां आए तीन अज्ञात अपराधियों ने अमर सिंह पर गोली चला थी. जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई. गोली मारने के बाद सभी अपराधी वहां से फरार हो गए।

कांवड़िए के वेश में आया बदमाश
इस दौरान कांवड़िए के वेश में आया अज्ञात अपराधी झो से हथियार निकाल कर कनपटी से सटाकर करीब छह- सात राउंड फायरिंग कर निकल भागा। फायरिंग की आवाज सुनकर आस-पास बड़ी संख्या में मौजूद पुलिस पदाधिकारी, स्थानीय लोगों ने व अन्य ने उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सक उमाकांत मेहरा ने उसकी मृत्य की पुष्टि कर दी।

घटनास्थल पर मौजूद मृतक के रिश्ते में लगने वाले भतीजे मनीष कुमार ने बताया कि कांवड़िये के भेष में आए अपराधी ने झोले से हथियार निकाल कर वारदात को अंजाम दिया और भागने में सफल रहा।मामले की जानकारी मिलने पर वारदात स्थल पर जरमुंडी थाने के पुलिस निरीक्षक दयानंद साह, एसआई अनुज कुमार यादव, एएसआई योगेंद्र शर्मा, अशोक कुमार, बासुकीनाथ नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष मंटू लाहा, उपाध्यक्ष अमित कुमार साह उर्फ छोटू साह सहित स्थानीय ग्रामीण सहित भारी संख्या में पुलिस बल पहुंच गए।

मृतक के साथ आये मित्र ब्रजेश सिंह पिता स्वर्गीय विष्णुदेव सिंह मानगो, जमशेदपुर ने बताया कि मृतक का जमशेदपुर में जमीन व्यवसाय से जुड़ा कारोबार है, मृतक के जमशेदपुर में कई आपराधिक इतिहास हैं। साथ ही मंत्री बना गुप्ता से भी नजदीकी है।

आईटीआई कॉलेज शिकारीपाड़ा में शैक्षणिक कार्य शुरू किया जाए: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद

आईटीआई कॉलेज शिकारीपाड़ा में शैक्षणिक कार्य शुरू किया जाए: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद

ललित कुमार पाल

शिकारीपाड़ा/दुमका: अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद शिकारीपाड़ा के नगर मंत्री सूरज कुमार पाल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा हर उग्रवाद प्रभावित इलाकों में आईटीआई कॉलेज का निर्माण हुआ है इसमें एक नाम शिकारीपाड़ा भी है और यह निर्माण ग्राम कालीपाथर में हुआ है।

 

माननीय मुख्यमंत्री के द्वारा उद्घाटन किए दो साल से ज्यादा समय हो गया परंतु अब तक शिक्षक, कर्मचारी पदाधिकारियों की पदस्थापित नहीं हुई है ना ही शैक्षणिक कार्य शुरू हुआ है ना ही शैक्षणिक कार्य हेतु आवश्यक सामग्री उपलब्ध कराई गई है एवं साथ ही दुमका रामपुरहाट रोड NH114A आईटीआई कॉलेज पहुंच पथ का भी निर्माण नहीं हुआ है वर्तमान में आरटीआई कॉलेज पहुंचने के लिए गड्ढानुमा सड़क है बिल्कुल कच्ची सड़क है हमारी सरकार से मांग है आईटीआई कॉलेज शिकारीपाड़ा में शैक्षणिक कार्य शुरू किया जाए एवं पहुंच पथ का निर्माण किया जाए ताकि हमारे क्षेत्र के छात्र छात्राओं को इसका लाभ मिल सके।

error: Content is protected !!