Your SEO optimized title

विधानसभा चुनाव की तैयारी में भाजपा, इन नेताओं को सौंपी जिम्मेदारी

rajexpress 2019 08 48307db2 47c7 4243 91ba e6e115b11be4 Vidhan Sabha 2

आगामी विधानसभा चुनावों की रणनीति के लिए भाजपा अध्यक्ष व गृह मंत्री अमित शाह ने इन 4 राज्यों में इन बड़ें नेताओं को चुनाव प्रभारी व सह-प्रभारी बनाएं जाने की घोषण की हैं।

दिल्ली : लोकसभा चुनाव 2019 में रिकॉर्ड तोड़ सीटों से विजय रथ पर सवार हुई भारतीय जनता पार्टी (BJP) अब इन चार राज्‍यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों की रणनीति में जुट चुकी हैं। जी हां भाजपा ने अभी से ही अपनी कमर कसते हुए इन राज्‍यों के चुनाव में भारी बहुमत हासिल करने की तैयारी शुरू कर दी हैं। आगामी विधानसभा चुनावों की तैयारियों के मद्देनजर भाजपा ने अपने इन बड़े नेताओं को भी ये अहम जिम्‍मेदारीयां सौंप दी हैं। दरअसल 9 अगस्‍त को ही भाजपा अध्‍यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी पार्टी के इन नेताओं के नामों की घोषणा कर चुनाव प्रभारी व सह-प्रभारी नियुक्‍त कर दिया हैं। तो आइये सबसे पहले तो हम यहां ये जान लेते है कि, विधानसभा चुनाव कहां-कहां होने वाले हैं।

इन 4 राज्‍यों में होंगे चुनाव :
दिल्ली
हरियाणा
महाराष्ट्र
झारखंड
भाजपा का सबसे ज्‍यादा फोकस यहां :
ऊपर बताएं गए ये राज्‍यों में ही विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी अब इन राज्‍यों पर अपनी नजर गढ़ाएं बैठी हैं। वैसे अगर देखा जाएं तो भाजपा का सबसे अधिक फोकस इस बार राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली पर ही रहने वाला हैं, क्‍योंकि भारतीय जनता पार्टी की सरकार दिल्ली को छोड़कर सभी राज्‍यों में हैं।
आइये जानेे कि, आखिर आगामी विधानसभा के चुनावों में भाजपा की नैया पार लगाने की अहम जिम्मेदारी के लिए किन नेताओं को कहां- कहां पर नियुक्‍त किया व किसे किस पद की कमान सौंपी हैं।

दिल्‍ली में इन नेताओं को सौंपी जिम्मदारी :
केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को चुनाव प्रभारी नियुक्त किया हैं।
वहीं, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी और केंद्रीय राज्य मंत्री नित्यानंद राय को चुनाव सह- प्रभारी की जिम्मदारी सौंपी है।
इसके अलावा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू प्रदेश संगठन प्रभारी और राष्ट्रीय सचिव तरुण चुघ सह प्रभारी होंगे।

हरियाणा में इन नेताओं को सौंपी जिम्मदारी :
हरियाणा की बात करें तो भाजपा ने केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर तो चुनाव प्रभारी नियुक्त किया हैं।
इनके साथ ही उत्तर प्रदेश की सराकर में मंत्री भूपेंद्र सिंह को चुनाव सह- प्रभारी बनाया गया है।
वहीं प्रदेश संगठन प्रभारी के तौर पर राष्ट्रीय महामंत्री डॉक्टर अनिल जैन जिम्‍मेदारी संभालेंगे।
महाराष्ट्र में इन नेताओं को सौंपी जिम्मदारी :
गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव को चुनाव प्रभारी नियुक्‍त किया है।
वहीं यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और कर्नाटक के पूर्व विधायक लक्ष्मण सावदी सह प्रभारी होंगे।
इसके अलावा प्रदेश सगंठन प्रभारी राष्‍ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्‍डेय को बनाया गया है।
झारखंड में इन नेताओं को सौंपी जिम्मदारी :

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने झारखंड विधानसभा चुनावों के लिए राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम प्रकाश माथुर को चुनाव प्रभारी नियुक्त किया गया है।
वहीं, बिहार की सरकार में मंत्री नंद किशोर यादव को चुनाव सह- प्रभारी बनाया है।

कब होंगे चुनाव :
अब बात यह आती हैं भारतीय जनता पार्टी (BJP) अभी से ही विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई हैं, दिल्ली, महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा में विधानसभा चुनाव कब होंगे, फिलहाल इस बारे में चुनाव आयोग के तरफ से अभी ऐसी कोई तारीख का ऐलान नहीं हुआ हैं, हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि, इस साल के अंत तक चुनाव तारीख तय कर चुनाव कराने की घोषण कर सकता हैं।

यहां देखें कब समाप्त हो रहा इन राज्‍यों का कार्यकाल:
अगर दिल्‍ली के विधानसभा कार्यकाल की बात करें तो यहां वर्ष 2020, फरवरी में पूरा होने वाला हैं।
वहीं हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल इसी वर्ष 2019 के नवंबर माह तक पूरा होने वाला हैं।
झारखंड विधानसभा का कार्यकाल वर्ष 2020 के पहले माह यानी जनवरी तक पूरा हो जाएंगा।
वैसे देखा जाएं तो दिल्‍ली और झारखंड का विधानसभा कार्यकाल वर्ष 2020 में पूरा होगा, लेकिन समय से पहले ही इन राज्‍यों में भी चुनाव की तैया‍रीयां अभी से शुरू हो गई हैं, क्‍योंकि ऐसा कहा जा रहा हैं कि, चुनाव आयोग हरियाणा, झारखंड और महाराष्ट्र इन तीनों राज्यों के साथ ही दिल्ली के चुनाव करा सकती हैं।
दिल्ली में भाजपा व आप के बीच मुकाबला :
इस बार दिल्ली में भाजपा व आम आदमी पार्टी की अरविंद केजरीवाल सरकार इन दोनों के बीच मुकाबला है। फिलहाल समय दिल्‍ली में आम आदमी पार्टी की सरकार हैं। वर्ष 2015 में हुए चुनावों में अरविंद केजरीवाल के नेतृत्‍व वाली आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने भारी बहुमतों के साथ कामयाबी हासिल की थीं। अब देखना ये है कि, इस बार के विधानसभा चुनावों में दिल्‍ली में कौन कितने मतों के साथ जीतता हैं व किसकी सरकार बनती हैं, पहले जैसे ही आम आदमी पार्टी की सरकार रहेंगी या फिर भारतीय जनत पार्टी अपना कमल खिलाएंगी।

By ख़बरों की तह तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!