Your SEO optimized title

दिल्ली की हवा हुई खतरनाक, जानिए वायु प्रदूषण से कौन-कौन सी बीमारियां होती हैं

दिल्ली : देश की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्थिति तक जा पहुंचा है। जहरीली हो चुकी दिल्ली की हवा में सांस लेना भी खतरना है। अस्थमा मरीज़ों, नवजात और बुज़ुर्गों के लिए को स्थिति बहुत घातक हो चुकी है। प्रदूषित हवा में सांस लेने से न सिर्फ आपके फेफड़े खराब होते हैं, बल्कि और भी कई बीमारियां हो सकती है।
दूषित हवा में लगातार सांस लेने से आंखों में जलन, खांसी आदि के साथ ही कई अन्य गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं-
दिल की बीमारी
प्रदूषित हवा में सांस लेने से हृद्य में रक्त प्रवाह सुचारू रूप से नहीं हो पाता, खून की धमनियां ब्लॉक हो जाती हैं। जिससे हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में आप खाने से चाहे जितना परहेज़ कर लें, लेकिन हवा का प्रदूषण आपको बीमार कर ही देगा।
निमोनिया
दूषित हवा में कई तरह के हानिकारक बैक्टीरिया होते हैं और ये बैक्टीरिया जब हम सांस लेते हैं तो उसके साथ हमारे शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। ये बैक्टीरिया निमोनिया जैसी बीमारी का कारण बन सकते हैं। लंबे समय तक दूषित हवा में सांस लेने से बीमारी और गंभीर हो सकती है।
फेफड़ों का कैंसर
प्रदूषित हवा में कई जहरीली गैस होती है जो फेफड़ों के कैंसर का कारण बन सकती है। बीमारी की वजह से फेफड़ों की कोशिकाएं तेज़ी से विकसित होने लगती है और जिससे शरीर में ऑक्सीजन की सप्लाई बाधित होती है।
अस्थमा
प्रदूषित हवा में सांस लेने से सबसे अधिक खतरा जिस बीमारी का होता है वह है अस्थमा। साथ ही अस्थमा के रोगियों के लिए तो प्रदूषित हवा में सांस लेना जानलेवा साबित हो सकता है। दूषित हवा की वजह से सांस की नली में सूजन आ सकती है, जिससे लोगों को सांस लेने में परेशानी होती है।
जन्मजात विकार
वायु प्रदूषण गर्भ में पल रहे शिशु पर भी असर डालता है। वायु प्रदूषण की वजह से जन्म के समय से ही बच्चे में कई डिफेक्ट्स यानी कमियां हो सकती हैं। उनका इम्यून सिस्टम भी कमज़ोर होता है, साथ ही ऐसे बच्चों को खांसी, जुखाम, एलर्जी और इंफेक्शन की संभावना अधिक होती है।
अगर आप दिल्ली में रहते हैं तो बहुत ज़रूरी है कि जितना हो सके खुद को प्रदूषित हवा के संपर्क में आने से बचाने की कोशिश करें साथ ही ये काम करेः

  • वायु प्रदूषण से बचने के लिए फुल स्लीव्सके कपड़े पहनें और घर से निकलने पर अच्छी क्वालिटी का मास्क पहनें।
  • रनिंग, वॉकिंग या बाहर जाकर एक्सरसाइज़ करने की बजाय घर के अंदर ही योग/एक्सरसाइज करें।
  • खिड़की, दरवाज़े बंद रखें।
  • इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाने के लिए अदरक-तुलसी वाली चाय पीएं।
  • घर में हवा को शुद्ध करने वाले पौधे लगाएं ताकि दूषित हवा का असर कम हो सके।
By ख़बरों की तह तक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!